सकारात्मक कार्य : महाराष्ट्र के 18 वर्षीय रितेश को लगाया जयपुर पैर

सकारात्मक कार्य : महाराष्ट्र के 18 वर्षीय रितेश को लगाया जयपुर पैर Pradakshina Consulting PVT LTD Support Us

18 वर्षीय युवा रितेश अब

अपने सपने पूरे कर सकेगा

———-

  • रायपुर/एक्ट इंडिया न्यूज/13/06/2021
  • श्री सीमंधर स्वामी जैन मंदिर व दादाबाड़ी ट्रस्ट रायपुर द्वारा 4 युवा पैर कटे दिव्यांगों को जयपुर पैर वितरित किए गए। ट्रस्ट के अध्यक्ष संतोष बैद व महासचिव महेन्द्र कोचर ने बताया कि चारों दिव्यांग 18 से 40 वर्ष उम्र के है और दुर्धटना में अपने पैर गंवा चुके हैं। 18 वर्षीय रोहित सालेकसा गोंदिया महाराष्ट्र निवासी है, पैर कट जाने से बहुत निराश थे लेकिन अब कृत्रिम पैर लगाकर उत्साहित हैं और जीवन में आगे बढ़ना चाहते हैं।
  • महासचिव महेन्द्र कोचर ने बताया कि मनोहर पूरी 22 वर्ष, गजेन्द्र साहू 35 वर्ष व नवल किशोर 40 वर्ष को ट्रस्ट द्वारा खेमराज जैन इन्द्रावती कालोनी की  सौजन्यता से जयपुर पैर वितरित किए गए। जयपुर पैर का निर्माण श्री विनय मित्र मण्डल रायपुर के स्थायी वर्कशॉप पचपेड़ी नाका में किया गया है।
  • इस अवसर पर खेमराज जैन ने कहा कि दिव्यांगों की सेवा जीवन का सर्वोच्च कार्य है दुर्घटनावश पैर कट जाने से जिंदगी रुक सी जाती है। युवा दिव्यांगों को पैर देकर पुनः स्वावलंबी बनाने श्री सीमंधर स्वामी जैन मंदिर व दादाबाड़ी ट्रस्ट व श्री विनय मित्र मण्डल बधाई के पात्र हैं। चमत्कारी श्री जिनकुशल सूरि जैन दादाबाड़ी, भैरव सोसायटी में कोरोना गाईड लाईन का पालन करते हुए जयपुर पैर वितरण किया गया।
अगर आपको यह पोस्ट जानकारी पूर्ण उपयोगी लगे तो कृपया इसे शेयर जरूर करें।

सकारात्मक कार्य : महाराष्ट्र के 18 वर्षीय रितेश को लगाया जयपुर पैर Pradakshina Consulting PVT LTD

क्या आप जानते : दूसरे ऐप्स को आपकी जानकारी देता है फेसबुक, इसे आप कर सकते हैं बंद

 

Support Us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *