कोरोना से मुक्ति के लिये की प्रार्थना व 21 दिवसीय इक्तिसा जाप का आयोजन – संतोष बैद

कोरोना से मुक्ति के लिये की प्रार्थना व 21 दिवसीय इक्तिसा जाप का आयोजन - संतोष बैद Pradakshina Consulting PVT LTD Support Us

कोरोना पर कन्ट्रोल के लिये

दादागुरुदेव का माना आभार

भैरव सोसायटी में इक्तिसा जाप

—————

जाप की व्यवस्था श्री खरतरगच्छ

महिला परिषद रायपुर शाखा द्वारा

—————

कोरोना से मुक्ति के लिये की प्रार्थना व 21 दिवसीय इक्तिसा जाप का आयोजन - संतोष बैद Pradakshina Consulting PVT LTD

—————

  • रायपुर/एक्ट इंडिया न्यूज
  • छत्तीसगढ़ में कोरोना कन्ट्रोल में है इसके लिये श्री जिनकुशल सूरि जैन दादाबाड़ी भैरव सोसायटी में 21 दिवसीय दादागुरुदेव का इक्तिसा जाप किया जा रहा है और आगे कोरोना से रक्षा की प्रार्थना भी की जा रही है। उक्ताशय की जानकारी श्री सीमंधर स्वामी जैन मंदिर व दादाबाड़ी ट्रस्ट के अध्यक्ष संतोष बैद व महासचिव महेन्द्र कोचर ने दी।
कोरोना से मुक्ति के लिये की प्रार्थना व 21 दिवसीय इक्तिसा जाप का आयोजन - संतोष बैद Pradakshina Consulting PVT LTD
  • महासचिव महेन्द्र कोचर ने बताया कि पर्युषण महापर्व की आराधना भी श्रद्धापूर्वक की जा रही है। प्रतिदिन रात्रि में इक्तिसा जाप पश्चात प्रभु भक्ति में लोकेश बागमार व वर्धमान चोपड़ा ने भक्तिमय प्रस्तुति दी। इक्तिसा जाप की व्यवस्था श्री खरतरगच्छ महिला परिषद रायपुर शाखा द्वारा की जा रही है। पर्युषण पर्व के अवसर पर विमल महिला मण्डल द्वारा मंदिर परिसर की सजावट की गई है एवं प्रतिदिन सभी प्रतिमाओं की आंगी बनाई जा रही है। इक्तिसा जाप पश्चात कूपन के माध्यम से लक्की विजेता को पुरस्कृत किया जाता है। प्रतिदिन आरती व मंगल दीपक से इक्तिसा जाप पूर्ण होता है।

इक्तिसा जाप किसे कहते है

  • सर्वप्रथम अपको बताते कि इक्तिसा जाप होता क्या है, तो जिस प्रकार हनुमान चालीस में चालीस श्लोकों में हनुमानजी का दर्शन वन्दना के माध्यम से दिया होता है, उसी प्रकार जैन समाज के दादागुरुदेव की वन्दना 31 श्लोकों के माध्यम से की गई है। इस प्रकार उन 31 श्लोकों को बार बार पढ़ कर (दोहरा कर) की गई प्रार्थना को जाप कहते है, अतः इसे दूसरे शब्दों में हम इसे इक्तिसा जाप (इकतीसा) कहते है।

कोरोना से मुक्ति के लिये की प्रार्थना व 21 दिवसीय इक्तिसा जाप का आयोजन - संतोष बैद Pradakshina Consulting PVT LTD

Support Us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *