स्वच्छता मिशन समूहों को 4 माह से नही मिली प्रोत्साहन राशि – योगेश तिवारी

स्वच्छता मिशन समूहों को 4 माह से नही मिली प्रोत्साहन राशि - योगेश तिवारी Pradakshina Consulting PVT LTD Support Us
राज्य सरकार स्व सहायता समूहों की
जरूरतों का रखे ध्यान-योगेश तिवारी
—————
तिवारी राज्य सरकार से की समूहों को
जल्द प्रोत्साहन राशि भुगतान की मांग
—————
  • बेमेतरा/एक्ट इंडिया न्यूज
  • किसान नेता योगेश तिवारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि स्वच्छता मिशन के अंतर्गत कार्यरत स्व सहायता समूह को 4 महीने से प्रोत्साहन राशि नहीं मिली है। इस संबंध में समूह के सदस्यों के द्वारा जिम्मेदारों से जानकारी मांगने पर शासन से आवंटन नहीं मिलने का हवाला दिया जा रहा है। ऐसी स्थिति में स्वच्छता मिशन के अंतर्गत की गतिविधियों के क्रियान्वयन में दिक्कत आ रही है।
स्वच्छता मिशन समूहों को 4 माह से नही मिली प्रोत्साहन राशि - योगेश तिवारी Pradakshina Consulting PVT LTD
  • महिला सदस्यों ने शासन प्रशासन से प्रोत्साहन राशि के जल्द भुगतान की मांग की है। योजना अंतर्गत हर ग्राम पंचायत में एक समूह को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिले जिले में 429 ग्राम पंचायतें हैं। किसान नेता योगेश तिवारी ने कहा कि राज्य सरकार को इन छोटे समूह की जरूरतों का ध्यान रखना चाहिए वही समय सीमा में पुरस्कार राशि का भुगतान किया जाना चाहिए ताकि संबंधित समूह के सदस्य दोगुनी उमंग और जोश के साथ स्वच्छता मिशन के कार्यक्रमों को आगे बढ़ाएं
समूहों का करीब 14 लाख रुपए
प्रोत्साहन राशि का भुगतान बकाया
  • जिला पंचायत से मिली जानकारी के अनुसार वर्तमान में नवागढ़ बेमेतरा बेरला व साजा जनपद से कुल 175 स्व सहायता समूह का के भुगतान के लिए प्रतिवेदन मिला है। प्रतिवेदन को आगे की कार्रवाई के लिए शासन को भेजा गया है। शासन से भुगतान प्राप्त होते ही संबंधित समूहों के बैंक खाते में भेज दिया जाएगा। प्रत्येक समूह को हर माह औसत 2 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि मिलनी है। 4 महीने से समूह को विस्तार से मिलने का इंतजार है। समूहों को 4 माह का करीब 14 लाख रुपए प्रोत्साहन राशि मिलनी है।
स्वच्छता मिशन समूहों को 4 माह से नही मिली प्रोत्साहन राशि - योगेश तिवारी Pradakshina Consulting PVT LTD
हर गतिविधि के लिए मिलनी है,
तय प्रोत्साहन राशि
  • जानकारी के अनुसार स्वच्छता मिशन के अंतर्गत संबंधित समूह को स्वच्छता के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करने हर गतिविधि के लिए तय प्रोत्साहन राशि मिलती है। जिसमे ग्राम में स्वच्छता नियम प्रोत्साहन एवं निरुत्साहन के नियमो का दीवार लेखन, ग्राम में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के पोस्टर लगाना, ओडीएफ होने की तिथि का शिलालेख की स्थापना, ग्राम में स्वच्छता फिल्म का प्रदर्शन एवं चर्चा, विद्यालयो में स्वच्छता क्लब का गठन एवं उनकी जिम्मेदारियों आदि पर उन्मीखकरण एवं स्वच्छता पंजी का साधारण, विद्यालयो में मध्यान्ह भोजन से पूर्व साबुन से हाथ धुलाई का स्वच्छता क्लब के सदस्यो द्वारा संचालन एवं अनुश्रवण, विद्यालय स्तर पर स्वच्छता प्रतियोगिताओ का आयोजन तथा पुरस्कार आदि शामिल हैं।

स्वच्छता मिशन समूहों को 4 माह से नही मिली प्रोत्साहन राशि - योगेश तिवारी Pradakshina Consulting PVT LTD

ब्रेकिंग : 100 करोड़ के हवाला रैकेट का भंडाफोड़!

राजस्थान : एमजीएसयू में आधुनिक इतिहास और महिला आधारित ऑनलाइन अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी आयोजित

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने 21 जून के टीकाकरण को लेकर मोदी सरकार पर लगाया आरोप

ट्रिपल आई टी में कुलपति का चयन नियम विरुद्ध, विकास उपाध्याय ने कुलाधिपति को लिखा पत्र

व्यापार जगत : 1 जुलाई से माल की खरीदी पर आयकर की नई धारा अनुसार काटना होगा टीडीएस – सीए चेतन तारवानी

भूपेश बघेल द्वारा रायपुर में अंतरराष्ट्रीय स्तर के अस्पताल की घोषणा का जैन संवेदना ट्रस्ट ने किया स्वागत

कोविड संक्रमण से मुखिया का निधन, आश्रितों को मिलेगा लोन, 25 जून तक आवेदन करें

Support Us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *