वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा नहीं रहे

वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा नहीं रहे Pradakshina Consulting PVT LTD Support Us
  • नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा का निधन हो गया। श्री वोरा ने कल ही जन्मदिन था। वोरा का  जन्म 20 दिसंबर 1928 को नागौर जिला राजस्थान में हुआ था। श्री वोरा पिछले कुछ दिनों से अस्वस्थ थे। एएनआई के हवाले से प्राप्त खबर के मुताबिक तबीयत बिगडऩे पर सुबह ही श्री वोरा को वेटिंलेटर पर रखा गया था। श्री वोरा के निधन की खबर से छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई है। इसलिए कि अधिकांश समय उन्होंने यहां कांग्रेस को मार्गदर्शक के रुप में नेतृत्व प्रदान किया।
  • मोतीलाल वोरा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और उत्तर प्रदेश के राज्यपाल थे। 1980 में अर्जुन सिंह मंत्रिमंडल में उन्हें उच्च शिक्षा विभाग का दायित्व सौंपा गया। 1988 में उन्होंने मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र दे दिया था। मोतीलाल वोरा का जन्म 20 दिसंबर 1928 को नागौर, जिला राजस्थान में हुआ था। उनके पिता का नाम मोहनलाल वोरा और मां का नाम अंबा बाई था। उनका विवाह शांति देवी वोरा से हुआ था। उनके चार बेटियां और दो बेटे हैं। उनके बेटे अरुण वोरा दुर्ग से विधायक हैं और वे तीन बार विधायक के रूप में चुनाव जीत चुके हैं।
  • मोतीलाल वोरा ने कई वर्षों तक पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य करते हुए कई समाचार पत्रों का प्रतिनिधित्व किया। मोतीलाल वोरा 1968 में राजनीति के क्षेत्र में उभरकर सामने आए। इसके बाद उन्होंने 1970 में मध्यप्रदेश विधानसभा से चुनाव जीता और मध्य प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के उपाध्यक्ष नियुक्त किए गए।
  • वे 1977 और 1980 में दोबारा विधानसभा में चुने गए और उन्हे 1980 में अर्जुन सिंह मंत्रिमंडल में उन्हें उच्च शिक्षा विभाग का दायित्व सौंपा गया। मोतीलाल वोरा 1983 में कैबिनेट मंत्री बने। इसके बाद में मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के रूप में भी नियुक्त हुए। 13 फरवरी 1985 में श्री मोतीलाल वोरा को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया गया और 13 फरवरी 1988 को उन्होंने मुख्यमंत्री के पद से त्यागपत्र देकर 14 फरवरी 1988 में केंद्र के स्वास्थ्य परिवार कल्याण और नागरिक उड्डयन मंत्रालय का कार्यभार संभाला।
  • अप्रैल 1988 में मोतीलाल वोरा मध्य प्रदेश से राज्यसभा के लिए चुने गए और श्री मोतीलाल वोरा ने 26 मई 1993 से 3 मई 1996 तक उत्तर प्रदेश के राज्यपाल के पद पर आसीन रहे। मोतीलाल वोरा 22 मार्च 2002 को एजेएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक बने। उन्होंने इससे पहले भी एआईसीसी कोषाध्यक्ष के रूप में कार्य किया है।
Support Us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *