दो राजनैतिक विरोधी पार्टीयों के नेताओं के बीच ये रिस्ता क्या कहलाता है! – आइये जानते है

दो राजनैतिक विरोधी पार्टीयों के नेताओं के बीच ये रिस्ता क्या कहलाता है! - आइये जानते है Pradakshina Consulting PVT LTD Support Us

  • रायपुर/एक्ट इंडिया न्यूज
  • छत्तीसगढ़ की राजनीति में भाजपा के वरिष्ठ विधायक, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल का कद बहुत ऊंचा है। यह बात उनकी पार्टी भाजपा के लोग तो मानते ही हैं, साथ ही विरोधी पार्टी के लोग भी इसे स्वीकार करते हैं। यह ऊंचाई उनके अच्छे व्यवहार और सबको सम्मान देने के कारण उन्हें मिली है।
  • राजधानी रायपुर प्रेस क्लब में फोटो जॉर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा फोटो प्रदर्शनी आयोजित की गई है,जिसे देखने शनिवार को बृजमोहन अग्रवाल प्रेस क्लब आये। उनके आने के पहले ही विधायक विकास उपाध्याय यहां आ चुके थे और सभी के साथ बैठकर बातचीत कर रहे थे, कि बृजमोहन अग्रवाल भी अचानक वहां आए, उन्हें सभी ने प्रेस क्लब में सम्मान से बैठाया गया। उनके बाजू में एक कुर्सी खाली थी। बृजमोहन अग्रवाल ने विधायक विकास उपाध्याय को अपने पास बैठने के लिए बुलाया।
  • विकास उपाध्याय ने यह कहते हुए उनके पास बैठने से मना कर दिया कि, भैया मैं आपसे बहुत छोटा हूं आपके समकक्ष नहीं बैठ सकता। विकास उपाध्याय के द्वारा इतना सम्मान देने पर बृजमोहन अग्रवाल भावुक हो गये और उन्हें हाथ पकड़कर अपने पास बैठा लिया, और उन्होंने कहा कि तुम मेरे छोटे भाई हो। हमारे राजनीतिक मतभेद भले ही हैं, यह कहकर अपने बगल वाली कुर्सी में बैठा लिया।
  • दोनों नेताओं का एक दूसरे के प्रति ऐसा आदर सम्मान देख कर वहां पर उपस्थित लोग अभिभूत हो गए। इस दौरान वहां पर कांग्रेस के शहर जिला अध्यक्ष गिरीश दुबे भी उपस्थित थे।

हम तो यही कहेगें ये रिस्ता एक दूसरे के प्रति सम्मान का भाव कहलाता है।

Support Us

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *